कोशिका क्या है – Cell

कोशिका क्या है ?

Cell/कोशिका जीवन की संरचनात्मक/ Structural व क्रियात्मक/ Functional इकाई कहलाती है।

  • इसे Building Blocks भी कहा जाता है।
  • इसे life की Fundamental Unit भी कहा जाता है।
  • Cell LATIN भाषा का शब्द  Cellula से बना है जिसका मतलब होता है – “Small Room”

 

Cell की खोज –

रोबर्ट हुक – कोशिका की खोज रोबर्ट हुक नाम एक वैज्ञानिक ने 1665 में  की यानि इन्होंने ही सबसे पहले कोशिका के बारे में पता लगाया।

Robert Hooke – उन्होंने Cork की एक पतली Slice ली तथा उसको microscope में देखा तथा देखा कि ये Cork कुछ छोटी छोटी Units का बना हुआ है। तथा उन्होंने देखा कि इस भाग में कुछ छोटे छोटे Space थे जैसे कि मधुमक्खी के छत्ते में पाए जाते है। रोबर्ट हुक ने इन मधुमक्खी के छत्ते(Honey comb) के जैसी दिखने वाली संरचना को CELL नाम दिया

Cell

 लेकिन यह कोशिका मृत(Dead) थी।

 

एंटोनी वॉन ल्यूवेन हॉक

एंटोनी वॉन ल्यूवेन हॉक ने 1674 में कोशिका के विषय मे बताया जो कि एक जीवित कोशिका थी।
discovered in free-living Algae “Spirogyra” cells in water in the pond in 1674 with the  microscope (तालाब के जल में स्वंत्रत रूप से )

 

Cell By Antony van Leeuwenhoek

Antony van Leeuwenhoek is regarded as the father of “Microbiology”(सूक्ष्म जीव विज्ञान).
He is known for the Discovery of Bacteria (जीवाणु)

 

Type of Cells/कोशिका के प्रकार

1. prokaryotic Cell
2. Eukaryotic Cell

 

1. प्रोकेरयोटिक कोशिका/ Prokaryotic Cells 

PRO(Before) + Karyon(Nucleus)

प्रोकेरयोटिक Cells में केन्द्रक के ऊपर  केन्द्रक झिल्ली/Nuclear Membrane  नही पायी जाती जिसके कारण केन्द्रक  में उपस्थित Genetic material कोशिका द्रव्य में बिखरा हुआ पाया जाता है।

 

2. युकेरयोटिक कोशिका/ Eukaryotic Cells

EU(True) +  Karyon (Nucleus)

युकेरयोटिक कोशिका में केन्द्रक के ऊपर  केन्द्रक झिल्ली/Membrane Present  होती है जो कि Nucleus के Material को  Cytoplasm/कोशिकाद्रव्य में जाने से  रोकती है।

 

Parts of Cell/कोशिका के भाग

1.  कोशिका झिल्ली/Cell Membrane
2. केन्द्रक/Nucleus
3. कोशिका द्रव्य/Cytoplasm

 

1. कोशिका झिल्ली/Plasma membrane

झिल्ली का मतलब है एक प्रकार का आवरण या एक प्रकार की बाहरी परत जो कि कोशिका के अंदर उपस्थित पदार्थ को कोशिका के बाहर के वातावरण से अलग करती है।
यह झिल्ली प्रदार्थो को कोशिका के अंदर जाने तथा बाहर आने में Help करती है। इसलिए इसे वर्णात्मक पारगम्य झिल्ली / selectively permeable membrane कहा जाता है।

 

2. केन्द्रक/Nucleus

केन्द्रक के चारों ओर भी एक झिल्ली होती है जिसे केन्द्रक झिल्ली कहा जाता है जो कि कोशिका द्रव्य/Cytoplasm को केन्द्रक से अलग करती है।
केन्द्रक में गुणसूत्र/Chromosome पाए जाते है जिनमे आनुवंशिक सूचना/Genetic Information होती है यह सूचना DNA के माध्यम से माता-पिता से संतति में Transfer होती है।

 

3. कोशिका द्रव्य/Cytoplasm –

कोशिका के अंदर एक तरल पदार्थ पाया जाता है ,इसे ही कोशिका द्रव्य/Cytoplasm कहा जाता है।
Cytoplasm के अंदर कोशिका के कई घटक present होते हैं, जिन्हें कोशिकांग/Organelles कहा जाता है।
कोशिका के प्रत्येक अंग/Organelle का अपना एक विशिष्ट कार्य होता है।

 

Cell में O2 व CO2 की गति –

कोशिका में पदार्थो की गति विसरण विधि द्वारा/Diffusion द्वारा होती है।
विसरण/diffusion  विधि में पदार्थो की गति उच्च सांद्रता से निम्न सांद्रता की और होती है  High Concentration to Low Concentration

 

Diffusion/विसरण

कार्बन डाइऑक्साइड जो कि Human  body के लिए Waste है जब यह Cell  में इकट्ठी हो जाती है तब Cell के अंदर  कार्बनडाई ऑक्साइड की मात्रा  Increase हो जाती है तथा Cell के बाहर  कार्बन डाइऑक्साइड की सांद्रता कम  हो जाती है |जिससे  Cell के अंदर व बाहर CO2 की सांद्रता में अंतर आएगा तो विसरण/Diffusion के द्वारा CO2 कोशिका से  निकल जायेगी ।

 

Cell के अंदर O2 की गति 

जब O2 की सांद्रता Cell के अंदर कम होगी और Cell के बाहर अधिक तो विसरण के माध्यम से O2 Cell के अंदर प्रवेश कर जाएगी।

विसरण/Diffusion गैसों/Gases के Exchange में महत्वपूर्ण Role Play करता है।

 

Check Out !

Plant Cell

Vitamins क्या है

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Leave a Comment