Plant Cell
 

पादप कोशिका
(Plant Cell) -: 

 
 
plant cell यूकेरयोटिक (eukaryoticहोती है।
 
plant cell बहुकोशिकीय (Multi cellular) होती हैं। 

कोशिका जीवन की आधारभूत इकाई होती है।
पादपों का शरीर भी कई कोशिकाओं का मिलकर बना होता है अतः पादप बहुकोशिकीय (Multicellular)  होते है।


पादप कोशिकाओं
के चारों ओर कोशिका भित्ति (Cell Wall)  का आवरण पाया जाता है जो कि कठोर होती है ,सेल्यूलोस की बनी होती है।

परिभाषा 

(Definition of Plant cell)  –

पादप कोशिका eukaryotic cells होती हैं जिनमे सुस्पष्ट केन्द्रक पाया जाता है तथा कोशिकांग  पाये जाते है।

Animals की तरह पौधों में विकसित कोशिका और उसके विशेष अंग यानि कोशिकांग होते हैं, जो मुख्य रूप से पादप के कोशिका कार्यो को करते हैं तथा पादप कोशिका में स्पष्ट केन्द्रक पाया जाता है इसलिए इन्हें Eukaryotes में रखा गया है। 

पादपों
में अपना भोजन खुद बनाने की क्षमता होती है, इसलिए इनके स्वपोषी कहा जाता है। भोजन के लिए पादप सूर्य के प्रकाश पर निर्भर रहते है तथा प्रकाश ऊर्जा को रासायनिक ऊर्जा में बदल कर जल व CO2 का उपयोग करके Oxygen व glucose बनाते हैं।

Plant cell-Definition-Function-Structure

पादप कोशिका की संरचना –

Structure

 Plant cell में पाए जाने वाले अंग –

1. कोशिका भित्ति (Cell -Wall)

2.कोशिका झिल्ली (Cell membrane)

3.केन्द्रक (Nucleus)

4. लवक (Plastid)

5. केंद्रीय रिक्तिका (Central Vacuole)

6. गोल्जिकाय (Golgi-Apparatus)

7.राइबोसोम (Ribosome)

8.माइटोकांड्रिया (Mitochondria)

9. लायसोसोम (Lysosome)

(1). कोशिका भित्ति (Cell- Wall ) – :

◆ यह पादप कोशिका का कठोर आवरण होता है।
◆ यह सेल्यूलोस की बनी  होती है ।

 

(2). कोशिका झिल्ली (Cell – Membrane) -: 

◆ अर्द्ध – पारगम्य होती है जो कि कोशिका भित्ति के अंदर उपस्थित होती है।
◆यह कोशिका के अंदर तथा बाहर जाने वाले पदार्थों का नियमन करती है।


(3). केन्द्रक (Nucleus)
– 

◆ झिल्ली युक्त कोशिकांग है।
◆ केन्द्रक में DNA व जरूरी आनुवंशिक सूचनाएं होती हैं जो कि कोशिका की व्रद्धि , कोशिका विभाजन में सहायक है।


(4). लवक (Plastid) – 

◆ झिल्ली युक्त कोशिकांग है।
◆ प्रकाश संश्लेषन के लिए आवश्यक ।

Types

Leucoplast – यह प्रोटीन, लिपिड तथा स्टार्च का संग्रह करता है।

Chloroplast – हरितलवक  के अंदर क्लोरोफिल नामक वर्णक पाया जाता है जो पादपों को हरा रंग प्रदान करता है तथा प्रकाश संश्लेषण की क्रिया में आवश्यक होता है।
यह प्रकाश ऊर्जा को अवशोषित कर CO2 व जल(H2O) को ग्लूकोस में बदलने मे सहायता करता है।

(5).केन्द्रीय रिक्तिका (Central Vacuole) – 

◆ यह पादप कोशिका का 30% भाग घेरती है।
◆ यह पादपों में भोजन का संग्रह (Food Storage) करती है।

(6). गोल्जिकाय (Golgi – Apparatus) – 

◆ यह सभी यूकैरयोटिक कोशिकाओं में पाये जाते है ।
◆ यह बड़े अणुओं जैसे protein व लिपिड का कोशिका के अन्य भागों में वितरण करते हैं।

(7). राइबोसोम (Ribosome) – 

◆ यह सबसे छोटे झिल्ली युक्त कोशिका के अंग होते है।
◆ राइबोसोम में protein का निर्माण होता है।
इन्हें प्रोटीन निर्माण की Factories कहा जाता है।





(8). माइटोकांड्रिया (Mitochondria)  – 

◆ दोहरी झिल्ली युक्त कोशिका के अंग
◆ यह Eukaryotic Cells के Cytoplasm में उपस्थित होते हैं।
◆ यह ऊर्जा प्रदान करते हैं , कार्बोहायड्रेट व शर्करा के अणुओं को तोड़कर( Break Down)
◆ इन्हें कोशिका का Power House कहा जाता है।




(9). लायसोसोम (Lysosome) – :

◆ इनके अंदर पाचक Enzymes होते हैं।
◆ ये कोशिका के अंदर अनावश्यक Food Particles या बाहरी तत्वों को नष्ट कर देते हैं।
◆ इन्हें आत्मघाती थैली (Suicide Bags) कहा जाता है।

पादप कोशिका के प्रकार –

● Collenchyma cells

● Sclerenchyma cells

● Perenchyma cells

● Xylem cells

● Phloem cells

पादप कोशिका के कार्य – :

Function -: 

1. पादप कोशिका  जड़ व पत्तियों से जल व पोषक पदार्थो का परिवहन पादप के अन्य भागों तक करती है

2. प्रकाश – संश्लेषण पादप कोशिका में होने वाला मुख्य कार्य है।

Important -:

■ जाइलेमयह जल एवं खनिज तत्वों का  परिवहन जड़ो से पत्तियों तक व पादप के अन्य भागों तक करता है।
 
Root —- Leaf / other parts of plant
 

■ फ्लोएम
 यह कोशिकाएं पत्तियों द्वारा बनाये गए भोजन को पादप के अन्य भागों तक पहुंचाती हैं।
 
Leaf—– other parts of plant

Categories: Biology